पृथ्वी के आकार का हीरा !

वाशिंगटन: हीरा एक से एक बड़े से बड़े आकार का आपने देखा होगा, परन्तु इतने बड़े आकार का नहीं, क्योंकि यह कोई एक-दो किलो का नहीं बल्कि पूरी पृथ्वी के जितना बड़ा है।दरअसल खगोलविदों की एक टीम ने एक छोटे तारे की खोज की है जो अब तक खोजे गए सभी तारों से अधिक ठंडा तथा चमकीला है। यह अतिप्राचीन तारा इतना ठंडा है कि इस पर उपस्थित कार्बन क्रिस्टल बनकर अपनी चमक से अंतरिक्ष में धरती के आकार का हीरा होने जैसा दिख रहा है।वैज्ञानिकों का कहना है कि इस तारे की उम्र हमारी आकाशगंगा जितनी ही हो सकती है। आकाशगंगा की उम्र लगभग 11 अरब वर्ष है। इस बारे में यूनिवर्सिटी ऑफ विस्कॉन्सिन मिलवॉकी के प्रोफेसर डेविड कैपलन का कहना है कि यह एक उल्लेखनीय उपलब्धि है। हीरे के जैसे इस तारे को कैपलन और उनके साथियों ने नेशनल रेडियो एस्ट्रोनॉमी ऑब्जर्वेटरी ग्रीन बैंक टेलीस्कोप तथा बहुत बड़े आकार वाले बेसलाइन एरे एवं अन्य प्रक्रियाओं के जरिए खोजा है।वैज्ञानिकों ने अपनी गणना में पाया कि इस छोटे से ठंडे तारे का तापमान 2,700 डिग्री सेल्सियस के लगभग है।वैज्ञानिकों का कहना है कि इन छोटे तारों पर प्राय: ऑक्सीजन और कार्बन होती है एवं ये धीरे-धीरे ठंडे होते जाते हैं। इसके पश्चात कुछ अरब वर्षों में धुंधले पड़ जाते हैं।