भारत का 85 वर्षों के टेस्ट इतिहास में विराट कारनामा !

हैदराबाद :भारत ने सोमवार को हैदराबाद में बांग्लादेश को एकमात्र टेस्ट मैच में 208 रनों से हरा दिया। यह टीम इंडिया की लगातार छठी टेस्ट जीत है और उसने इसी के साथ इतिहास रच दिया। भारत ने 85 साल के अपने टेस्ट क्रिकेट इतिहास में पहली बार लगातार 6 टेस्ट सीरीज जीती।इससे पहले भारत ने अक्टूबर 2008 से जनवरी 2010 के बीच लगातार 5 टेस्ट सीरीज जीतने में सफलता हासिल की थी। भारत ने विराट के नेतृत्व में लगातार 6 टेस्ट सीरीज जीतने में सफलता हासिल की। भारत की जीत का यह सिलसिला अगस्त 2015 में श्रीलंका के खिलाफ शुरू हुआ था। टीम इंडिया ने इसके बाद दक्षिण अफ्रीका को अपने घर में 3-0 से हराया। भारत की जीत का सिलसिला वेस्टइंडीज में जारी रहा, जहां उसने इंडीज को 2-0 से हराया। भारत ने इसके बाद 3 मैचों की सीरीज में न्यूजीलैंड का सफाया किया। टीम इंडिया ने इसके बाद इंग्लैंड को 4-0 से रौंदा और अब बांग्लादेश को 1-0 से हराया।टीम इंडिया द्वारा बांग्लादेश को हैदराबाद टेस्ट में 208 रनों से हराने के साथ ही विराट कोहली देश के नंबर वन कप्तान बन गए। उन्होंने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में लगातार सबसे अधिक सीरीज जीतने के मामले में महेंद्रसिंह धोनी को पीछे छोड़ दिया।         85 वर्षों के टेस्ट इतिहास में विराट कारनामा:- विराट के नेतृत्व में टीम इंडिया ने सभी फॉर्मेट में मिलाकर यह आठवीं जीत दर्ज की। इससे पहले यह रिकॉर्ड धोनी के नाम पर था, जिन्होंने जनवरी से नवंबर 2013 तक लगातार सात सीरीज जीती थी। कोहली के नेतृत्व में टीम ने अब अगस्त 2016 से लगातार 8 सीरीज अपने नाम पर की है।विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया पिछले 19 टेस्ट मैचों से अपराजेय बनी हुई है। कोहली ने इस मामले में सुनील गावस्कर का रिकॉर्ड ध्वस्त किया है। टीम इंडिया की यह लगातार छठी सीरीज जीत है और टीम ने 85 वर्षों के टेस्ट इतिहास में यह कारनामा पहली बार किया है।बल्लेबाजी के लिहाज से अच्छा विकेट:-टीम इंडिया के कोच अनिल कुंबले ने भी माना कि बल्लेबाजी के लिहाज से यह अच्छा विकेट था और उनकी टीम को 20 विकेट हासिल करने के लिए 200 से अधिक ओवर फेंकने पड़े।उन्होंंने कहा कि मुझे लग रहा था कि यह विकेट चौथे और पांचवें दिन कुछ अधिक 'टूटेगा', लेकिन ऐसा नहीं हुआ।कोच ने कहा कि यह देखकर अच्छा लग रहा है कि खिलाड़ी विकेट की ओर नहीं देखते हुए प्रदर्शन पर ध्यारन दे रहे हैं और मैदान पर श्रेष्ठ प्रदर्शन कर टेस्ट मैचों में जीत हासिल कर रहे हैं। उमेश यादव और भुवनेश्‍वरसे हूँ बेहद खुश ;-टीम इंडिया के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने कहा, 'जब गेंद रिवर्स स्विंग कर रही थी तो मैं जानता था कि मेरे पास इसका भरपूर लाभ लेने का मौका है क्‍योंकि मैं गेंदों को दोनों ओर मूव करा सकता हूं।'दिल्‍ली के इस तेज गेंदबाज ने कहा, उमेश यादव और भुवनेश्‍वर ने जिस तरह की गेंदबाजी की, उससे मैं बेहद खुश हूं। सपाट विकेट पर उन्‍होंने अच्‍छी लेंथ की गेंदें डालीं। यह विकेट गेंदबाजी के लिहाल से मुश्किल था, लेकिन यदि आप धैर्य रखते हैं तो सफलता हासिल कर सकते हैं।भारत की लगातार छै  टेस्ट जीत:-विवि श्रीलंका 2-1,विवि दक्षिण अफ्रीका 3-0,वि‍वि वेस्टइंडीज 2-0,विवि न्यूजीलैंड 3-0,विवि इंग्लैंड 4-0,विवि बांग्लादेश 1-0 ।रिकॉर्ड इंग्लैंड व ऑस्ट्रेलिया के नाम: टेस्ट क्रिकेट में लगातार सबसे ज्यादा टेस्ट सीरीज जीतने का रिकॉर्ड इंग्लैंड व ऑस्ट्रेलिया के नाम दर्ज है। इन दोनों ने लगातार 9-9 टेस्ट सीरीज जीती थी। इंग्लैंड ने यह कारनामा 1884-1891 के बीच किया। ऑस्ट्रेलिया ने इस करिश्मे को 2005-08 के बीच दोहराया।