केन्‍द्रीय सर्वे दल ने खेतों में पहुंचकर लिया सूखे का जायजा !

अशोकनगर : जिले में अल्प वर्षा से उत्पन्न सूखे की स्थिति का जायजा लेने गुरूवार को केन्द्रीय सूखा सर्वे दल अशोकनगर जिले के कृषकों के साथ खेतों में पहुचें। सूखा सर्वे दल ने सूखे के संबंध में कलेक्टर एवं संबंधित अधिकारियों से जानकारी प्राप्‍त की। उन्‍होंने ईसागढ विकासखण्‍ड के ग्राम घुरवार कला एवं सिरनी पहुंचकर कृषकों से खरीफ फसल के सूखे के संबंध में चर्चा की। उन्‍होंने ग्राम सिरनी में फसल कटाई प्रयोग के संबंध में कृषकों एवं अधिकारियों से विस्‍तार से जानकारी ली। दल द्वारा पेयजल की उपलब्‍धता एवं जल स्‍तर के बारे में ग्रामीणों से बातचीत की।सूखा सर्वे की रिपोर्ट केन्‍द्र सरकार को :- सर्वे दल द्वारा बताया गया कि सूखा सर्वे की रिपोर्ट केन्‍द्र सरकार को सौंपी जायेगी। सर्वे रिपोर्ट के आधार पर आगामी आवश्‍यक कार्यवाही की जायेगी। केन्‍द्रीय सूखा सर्वे दल में आर.सी.कोल, सहायक संचालक व्‍यय विभाग, एम.सी.शर्मा वरिष्‍ठ सलाहकार पेयजल, प्रदीप ठाकुर अधीक्षण यंत्री केन्‍द्रीय जल आयोग, ए.के. शिवहरे एफ.सी.आई तथा भोपाल से उप सचिव राजस्‍व अजय कुमार दल में शामिल थे।मनरेगा के माध्यम से हो रहे कार्य:-कलेक्‍टर बी.एस.जामोद ने सूखा सर्वे दल के सदस्‍यों को बताया कि जिले में 884 ग्राम सूखे से प्रभावित हुए है। जिले में कुल 228071 हेक्‍टेयर रकबा प्रभावित हुआ है। जिसमें 167270 कृषक सूखे से प्रभावित हुये है। जिले में खरीफ की बोबनी औसतन 307378 हैक्‍टेयर में की गई थी। उन्‍होंने जिले में अल्प वर्षा के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामीणों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए मनरेगा के माध्यम से कार्य कराए जा रहे हैं। जिले में 12 हजार 868 कार्य वर्तमान में प्रगति पर हैं। लोगों को रोजगार मुहैया कराने के लिये मनरेगा से निरंतर कार्य स्वीकृत कर कराये जा रहे है।सूखा राहत दल को दी जानकारी:- सूखा सर्वे दल द्वारा ग्राम पंचायत घुरवार कला में खरीफ फसल में व्‍याप्‍त सूखे का सर्वे करते हुए कृषक राजेन्‍द सिंह यादव के खेत में पहुंचकर बातचीत की तथा खरीफ एव रबी फसलों के बारे में जानकारी प्राप्‍त की। ग्राम के कृषक सुलूआ जाटव ने बताया कि उसने एक हेक्‍टेयर में सोयाबीन की फसल बोई थी, जिसमें फसल का कुछ भी उत्‍पादन नही हुआ। इसी प्रकार ग्राम पंचायत सिरनी के कृषक भूपत सिंह तथा उमाबाई के खेत में पहुंचकर फसल कटाई एवं प्राप्त उत्‍पादन के बारे में जानकारी ली। सूखा राहत दल को जानकारी दी गई कि अल्प वर्षा के कारण किसानों की फसल को नुकसान हुआ है। भ्रमण के दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्‍व जे.पी.गुप्‍ता, उप संचालक कृषि एस.एस.मरावी, एस.एल.आर अरविन्‍द्र जैन, तहसीलदार ईसागढ इसरार खांन,नईसराय कमलसिंह मंडेलिया एवं संबंधित अधिकारी साथ थे।

Tags: