शहीदे आजम भगत सिंह के लिए लाहौर हाईकोर्ट में लगाई याचिका !


लाहौर : शहर के शादमान चौक का नाम स्व

तंत्रता सेनानी शहीद भगत सिंह पर रखने और उनकी प्रतिमा लगाने की मांग को लेकर लाहौर हाई कोर्ट में एक और याचिका दाखिल की गई है। ब्रिटिश शासकों ने शादमान चौक पर ही भगत सिंह को उनके दो साथियों राजगुरु औरसुखदेव के साथ 23 मार्च, 1931 को फांसी दे दी थी।भगत सिंह जैसा कोई भी बहादुर व्यक्ति नहीं था:-याचिका भगत सिंह मेमोरियल फाउंडेशन के चेयरमैन इम्तियाज राशिद कुरैशी ने दायर की है। बुधवार को याचिका की सुनवाई के दौरान लाहौर हाई कोर्ट को बताया गया कि ऐसी ही एक और अर्जी उसके समक्ष लंबित है। इस पर जस्टिस शाहिद जमील खान ने दोनों याचिकाओं को क्लब करने का आदेश दिया। मामले में अब पांच मार्च को सुनवाई होगी।याचिका में कहा गया है कि भगत सिंह स्वतंत्रता सेनानी थे। उन्होंने उप-महाद्वीप की आजादी के लिए अपनी जान दी। याचिका में कहा गया है कि पाकिस्तान के संस्थापक कायदे-ए-आजम मुहम्मद अली जिन्ना ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा था, 'उप-महाद्वीप में भगत सिंह जैसा कोई भी बहादुर व्यक्ति नहीं था।'
Tags: