सुषमा को पति और बेटी की उपस्थिती में अंतिम विदाई !

दिल्ली :भारत की सफलतम विदेश मंत्री एवं दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज का ह्रदय घाट से निधन होने का समाचार जैसे ही लोगों को मिला एकाएक यकीन नही आया और अपने –अपने स्तर पर इसकी पुष्टि करते रहे,शायद कहीं से ही यह सुने आजाये जय प्रकाश नारायण की तरह कि नहीं यह समाचार भूल से जरी हो गया .किन्तु होनी को कौन टाल सकता है! अतः नहीं चाहते हुए भी इस सत्य को स्वीकार करना ही पड़ा कि एक विदुषी जन नेत्री अब इस दुनिया को दैहिक रूप को त्यागकर अपनी चिर स्मरणीय यादों को लोगों के बीच छोड़करअनंत में जा चुकी हैं! देश ही नहीं उसके बाहर के तमाम लोगों ने अपने स्तर पर उन्हें अपने श्रद्धांजलि अर्पित करते रहे!सुषमा जी के राजनीतिक गुरु और देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री भाजपा के वरिष्ठतम नेता एल के अडवाणीजी ने अपनी नाम आँखों से सिसकियों के साथ कहा ‘देश ने एकमहान नेता खो दिया’ .वहीं देश के राष्ट्रपतिरामनाथ कोविंद,उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधान मंत्री डॉ.मनमोहनसिंह,यूपीए चेयर पर्सनश्रीमती सोनिया गाँधी सहित अनेकों गणमान्य जनों ने उनके घर पहुंचकर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की.राजकीय सम्मान के साथ उनके पति स्वराज कौशल तथा बेटी की उपस्थिती के साथ तमाम नम आँखों ने विद्धुत शवदाय गृह में उनको बुधवार को अंतिम विदाई दी !दिल्ली एवं हरियाणा ने श्रीमती स्वराज के आकस्मिक निधन पर दो दिन का राजकीय शोक घोषित किया है. >