भारत सरकार ने सौपे माल्या प्रत्यर्पण के लिए ब्रिटिश अदालत में सबूत !

विजय माल्या भारतीय बैंकों को नौ हजार करोड़ का चूना लगाकर ब्रिटेन भागा यह उद्योगपति  सुनवाई के दौरान गुरुवार को अदालत में मौजूद रहेगा।लंदन के वेस्टमिंस्टर स्थित चीफ मजिस्ट्रेट की अदालत में उस पर मामला विचाराधीन है। अभी तक माल्या अदालत में व्यक्तिगत तौर पर पेश नहीं हुआ था।

ओशो की असली वसीयत खोजेगी पुलिस !

 ओशो ट्रस्ट के कोष से जुड़ी कथित धोखाधड़ी और अनियमितता की जांच मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने एक बड़ा निर्देश दिया है। मंगलवार को एक इस मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग संबंधी एक याचिका पर सुनवाई करते हुए उन्होंने केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) को भी प्रतिवादी बनाने का निर्देश दिया।2016 में पुणे के योगेश ठक्कर ने विगत वर्ष पुलिस में मामला दर्ज करवाया था कि ओशो इंटरनेशनल फाउंडेशन के ट्रस्टियों ने ओशो की वसीयत में उनके हस्ताक्षर में धोखाधडी की है।

जापान पीएम शिंजे आबे ने गढ़ा दोस्ती का नया नारा !

गुरुवार को बहुप्रतीक्षित अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन की जापान के प्रधानमंत्री शिंजे आबे और पीएम नरेंद्र मोदी ने रखी आधारशिला। जापानी पीएम आबे ने इस अवसर पर हिंदी में संबोधन शुरू करते हुए अपने संबोधन से सबका ध्यान आकर्षित किया। आबे ने भारत और जापान के लिए एक नया नारा भी दिया। उन्होंने 'जय जापान, जय इंडिया' का नारा देते हुए आगे भी भारत की मदद का आश्वासन दिया।

राजकीय सम्मान के साथ हुआ कालूखेड़ा का अंतिम संस्कार !

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं अशोकनगर जिल की मुंगावली विधान सभा सीट से विधायक महेंद सिंह कालूखेड़ा को उनके पैतृक गांव में बुधवार सुबह राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। जहाँ पर कालूखेड़ा का अंतिम संस्कार उनकी बेटियों तथा छोटे भाई ने मुखाग्नि देकर किया। सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शवयात्रा में कंधा दिया। दूर-दूर से उनके समर्थक और पूरा गांव उन्हें अंतिम विदाई देने के लिए पहुंचा।मप्र के सीएम शिवराज सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष अजय‍सिंह, विधानसभा उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह,पूर्व मु.मं दिग्विजय सिंह सहित कई सांसद, पूर्व विधायक और मंत्री तथा अशोकनगर, गुना से भी बड़ी संख्या में उनके समर्थकों का समूह भी अपने लाड़ले नेता को यहां अंतिम विदाई देने पहुंचे।

मूल अधिकार और मौलिक कर्तव्य एक दूसरे के पूरक - रविप्रकाश

  जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एवं जन अभियान परिषद के समन्वय से बुधवार को  राज्य मानव अधिकार दिवस के अवसर पर मानव अधिकार एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण की भूमिका  बिषय पर गोष्ठी एवं शिविर का आयोजन किया गया।

Pages