भारत ने पाकिस्तान को 76 रन से रौंदा !

एडिलेड:   भारत ने विराट कोहली के शतक(107) और बेहतरीन गेंदबाजी के बूते वर्ल्ड कप 2015 के ग्रुप बी के महामुकाबले में पाकिस्तान को 76 रन से रौंद दिया है। भारत के 301 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाक टीम 224 रन पर सिमट गई। भारत की ओर से मोहम्मद शमी ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए। पाक की ओर से मिस्बाह ने सबसे ज्यादा 76 रन बनाए।भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी और विराट कोहली(107), शिखर धवन(73) और सुरेश रैना(74) की पारियों के बूते सात विकेट पर 300 रन बनाए। रोहित शर्मा के रूप में पहला विकेट जल्दी ही गिर गया। इसके बाद कोहली और धवन ने दूसरे विकेट के लिए 129 रन की शतकीय साझेदारी की। धवन 73 रन बनाकर आउट हो गए।इससे पहले मोहम्मद शमी ने एक ही ओवर में शाहिद अफरीदी और वहाब रियाज को चलता कर दिया। अफरीदी ने 22 और रियाज ने चार रन बनाए। रवीन्द्र जडेजा ने उमर अकमल को धोनी के हाथों कैच कराकर पांचवीं सफलता दिलाई। उमेश यादव ने तीन गेंदों के अंतराल में दो विकेट झटककर भारत को हावी कर दिया

तेलंगाना में स्वाइन फ्लू का कहर, अब तक 45 मरे !

हैदराबाद: शुक्रवार को स्थानीय अस्पताल मेंस्वाइन फ्लू की चपेट में आने से तीन और मरीजों की मौत होने के बाद तेलंगाना में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या 45 हो गई।स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार शुक्रवार को 89 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया, जिसमें से 20 लोगों में स्वाइन फ्लू पाया गया। गौरतलब है कि जनवरी से अब तक तेलंगाना में स्वाइन फ्लू से 45 मौतें हो चुकी हैं और करीब 969 लोग स्वाइन फ्लू से ग्रस्त पाए गए हैं।जनवरी से अब तक 2212 लोगों के सैंपल लिए गए जिनमें से 738 लोगों में स्वाइन फ्लू पॉजिटिव पाया गया।स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि पिछले 6 दिनों में स्वाइन फ्लू के मामलों मे कमी आई है। फिर भी चिकित्सकों ने लोगों को सलाह दी है कि स्वाइन फ्लू लक्षण (बदन दर्द, बुखार, जुकाम, छींक) दिखने पर तुरंत नजदीकी अस्पताल से सम्पर्क करें।

"तालिबान भारत के खिलाफ आईएसआई की उपज" - मुशर्रफ

लंदन:  जनरल परवेज मुशर्रफ पूर्व राष्ट्रपति पाकिस्तान ने पहली बार खुफिया एजेंसी आईएसआई और तालिबान के साथ रिश्तों को स्वीकार करते हुए कहा है कि तालिबान भारत के विरुद्ध आईएसआई की उपज है। भारत के खिलाफ आईएसआई ने तालिबान को ने केवल खड़ा किया बल्कि इसका इस्तेमाल भी किया। ब्रिटेन के दैनिक "द गार्डियन" को दिए इंटरव्यू में भी मुशर्रफ ने आईएसआई और तालिबान के बीच संबंधों की यह बात कबूली।जनरल मुशर्रफ ने कहा कि आर्ईएसआई ने 2001 में तालिबान को भारत के खिलाफ इसलिए खड़ा किया क्योंकि अफगानिस्तान में राष्ट्रपति हामिद करजई की सरकार में बड़ी संख्या में गैर पश्तून लोग और ऎसे अधिकारी शामिल थे जो पाकिस्तान को छोड़ भारत का समर्थन करते थे। उन्होंने करजई पर आरोप लगाया कि उन्होंने पाकिस्तान की जगह भारत का साथ देकर हमारी पीठ में छुरा घोंपने का काम किया। जनरल मुशर्रफ ने माना कि उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान अफगानिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति करजई का कभी समर्थन नहीं किया क्योंकि वह पाकिस्तान के हितों क

Pages