सुषमा ने पेश किया भारत-चीन संबंधों के लिए 6 सूत्री मॉडल

बीजिंग: भारत-चीन संबंधों को मजबूत बनाने के लिए रविवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने  छह सूत्री मॉडल पेश किया ताकि इस सदी को एशिया की सदी बनाने के दोनों देशों के सपने को पूरा किया जा सके। स्वराज ने दूसरे "भारत-चीन मीडिया फोरम" को संबोधित करते हुए स्पष्ट किया कि मोदी सरकार चीन के साथ सीमा मुद्दे के शीघ्र समाधन के लिए प्रतिबद्ध है।चीन की चार दिन की अपनी पहली यात्रा पर पहुंचीं स्वराज ने चीनी नेतृत्व के साथ औपचारिक बातचीत से पहले दोनों देशों के बीच संबंधों को सुदृढ़ बनाने का खाका पेश किया।उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि दोनों देशों को कार्योन्मुखी रूख अपनाना चाहिए और व्यापक आधर वाले द्विपक्षीय रिश्तों, क्षेत्रीय और वैश्विक हितों को साथ लेकर इसे एशिया की सदी बनाने के लिए काम करना चाहिए।स्वराज ने कहा कि पूर्ण बहुमत वाली भारत की नई सरकार देश  की  जोशीली, उद्यमशील और उत्साही युवा पीढ़ी की आकांशाओं को आगे बढ़ाएगी। दोनों देशों के बीच रक्षा संबंधों को रेखांकित क

स्वान फ्लु तथा संचारी रोगों पर केन्द्रित कार्यशाला संपन्न

अशोकनगर:जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने स्थनीय होटल राजश्री में स्वान फ्लू एवं संचारी रोगों के संबंध में एक कार्यशाला आयोजित की गई।यह कार्यशाला शासकीय एवं निजी चिकित्सकों,शिक्षकों एवं पत्रकार और मीडियाकर्मियों, एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के लिए सम्मलित रूप से स्वान फ्लु तथा संचारी रोगों पर केन्द्रित  एक दिवसीय कार्यशाला रविवार दोपहर लगभग 12 बजे से आरम्भ की जिस

एसआईटी 1984 के दंगों की फिर से कर सकती है जांच

नई दिल्ली:सिख विरोधी दंगे1984 की दोबारा जांच करने के लिएकेद्र सरकार द्वारा नियुक्त एक समिति ने विशेष जांच बल (एसआईटी) गठित करने की सिफारिश की है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि समिति के प्रमुख सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस (सेवानिवृत) जी पी माथुर ने विगत सप्ताह अपनी रिपोर्ट केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को सौंप दी है। अपनी रिपोर्ट में उन्होंने सिख विरोधी दंगों की पुन: जांच एसआईटी से करवाने की सिफारिश की है।सूत्रों ने बताया कि इस आश्य की घोषणा सात फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनावों के बाद हो सकती है क्योंकि इस वक्त राष्ट्रीय राजधानी में आचार संहिता लगी हुई है। इससे पहले, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सभी सिख विरोधी दंगों की फिर से कराने की मांग की थी।जस्टिस नानावती आयोग ने पुलिस द्वारा बंद 241 मामलों में से महज 4 मामलों की फिर से जांच करवाने की सिफारिश की थी। हालांकि, भाजपा की मांग थी की बाकी के 237 मामलों की भी फिर से जांच होनी चाहिए।अभी यह पता नहीं चल पाया है कि जस्टिस माथुर ने अपनी रिपोर्ट

जशोदाबेन का समाचार चलाने पर दूरदर्शन के अधिकारी का तबादला कालापानी !

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदाबेन की खबर चलाना दूरदर्शन के एसिस्टेंट डायरेक्टर को खासा भारी पड़ गया है। अहमदाबाद दूरदर्शन में तैनात इस अधिक ारी का जशोदाबेन की खबर चलाने को लेकर तत्काल तबादला कर दिया गया है। एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले को लेकर दूरदर्शन के कई अन्य अधिकारी भी सफाई देने में जुटे हैं।हाल ही में पीएम मोदी की पत्नी जशोदाबेन ने प्रशासन से अपनी सुरक्षा को लेकर आरटीआई दायर की थी। जशोदाबेन ने आरटीआई में पूछा था कि उन्हें प्रशासन की ओर से जो सुरक्षा मुहैया कराई जा रही है। वह किस हैसियत से दी जा रही है। अगर उन्हें ये सुविधाएं पीएम की पत्नी होने की वजह से दी जा रही है, तो फिर उन्हें और क्या-क्या सुविधाएं मिलनी चाहिएगौरतलब है कि प्रशासन ने जशोदाबेन को उनका द्वारा दायर की गई आरटीआई का जवाब देने से इनकार कर दिया था। जिसके बाद प्रशासन ने उन्हें जवाब देने से इनकार कर दिया था। वहीं जशोदाबेन ने इसके खिलाफ अपील भी दायर क

Pages