Politics

सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने पर पार्टी में शुरू हुआ आरोप - प्रत्यारोप !

पूर्व कोंग्रेस से गुना सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के बाद पार्टी के अंदर घमासान मचा हुआ है। एक तरफ जहां कांग्रेस के कई नेता सिंधिया को खुलेआम कोस रहे हैं। वहीं कई ऐसे भी कांग्रेसी नेता हैं जो दबी जुबान से सिंधिया के कदम का समर्थन कर रहे हैं। 

उद्धव ठाकरे ने संभाला महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद का कार्यभार !

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर आज उद्धव ठाकरे ने कार्यभार संभाल लिया है। वहीं कल विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया है और एनसीपी विधायक दिलीप वालसे पाटिल को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया गया है। कल नवनिर्विचित ठाकरे सरकार को बहुमत साबित करना पड़ा सकता है। 

प्रदेश के पहले गैर कांग्रेस मुख्यमंत्री कैलाश जोशी की पार्थिव देह पंचतत्‍व में विलीन !

 मध्य प्रदेश के पहले गैर कांग्रेस मुख्यमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता कैलाश जोशी की पार्थिव देह जिले के हाटपीपल्‍या में पंचतत्‍व में विलीन हो गई।जोशी का रविवार को भोपाल में निधन हो गया था। वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे। सोमवार सुबह मध्य प्रदेश भाजपा कार्यालय में उनके पार्थिव शरीर को दर्शन के लिए रखा गया। जहां बड़ी संख्या में भाजपा के बड़े नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसके बाद भाजपा कार्यालय से पार्थिव देह को हाटपिपल्या के लिए रवाना किया गया। भोपाल से आगे बढ़ते समय जगह-जगह अपने नेता को अंतिम विदाई देने के लिए लोग सड़क पर खड़े रहे। पूर्व सीएम के निधन पर मध्य प्रदेश में तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है। मध्य प्रदेश सरकार की ओर से कैबिनेट मंत्री सज्जन सिंह वर्मा उनके अंतिम संस्कार में शामिल हुए।

बिहारी बाबू होंगे पटना साहब से कॉग्रेस के प्रत्याशी !

दिल्ली:शनिवार को पटना सांसद और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी इस पार्टी को उसके स्थापना दिवस के मौके पर पार्टी के इस महोत्सव को करारा झटका देते हुए आज अलविदा करते हुए कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी महासचिव के.सी. वेणुगोपाल और रणदीप सिंह सुरजेवाला की मौजूदगी मेंदेश की सबसे पुरानी पार्टी कॉग्रेस में शामिल हो गए।भाजपा को उसके स्थापना दिवस के मौके पर जौर का झटका देकर कॉग्रेस की सदस्यता जैसे ही ग्रहण की तो सारी अटकलें दूर करते हुए कॉग्रेस की पट्टी गले में पहनाकर गर्म जोशी से अभिनंदन करते हुये पटना साहिब से अपना प्रत्याशी बनाते हुए भाजपा प्रत्याशी रवि शंकर के साथ ही अपनी परमपरिक सीट पर शत्रुध्न सिन्हा अब उसी पार्टी के लिए मुसीबत बनने जा रहे हैं जिससे वो अभी सांसद हैं।

Pages