Politics

भाजपा के पूर्व विधायक राजकुमार सिंह यादव पर बलवा कायम हिरासत में जेल भेजा

अशोकनगर:जिला पंचायत के त्रिस्तरीय निर्वाचन के अंतिम चरण में भाजपा के पूर्व चंदेरी विधायक राजकुमार सिंह यादव द्वारा  ईसागढ़ ब्लॉक के ग्राम गनिहारी में चुनाव प्रक्ररिया के दौरान व्यवधान उत्पन्न करने पर  बलवा की कायमी की गई है। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया ।दोपहर में लगभग 1 बजे चन्देरी से पूर्व भाजपा विधायक रहे राजकुमार सिंह यादव ग्राम गनिहारी पहुंचे। आरोप है की वे जबरन मतदान केन्द्र में घुसने की कोशिश कर रहे थे जब उन्हें रोकने की कोशिश की तो वे नहीं माने। इस दौरान ग्रामीणों ने भी हंगामा किया, जिस पर पुलिस ने हल्का बल प्रयोग ग्रामीणों को काबू किया। पीठासीन की शिकायत पर कायमी-  पीठासीन अधिकारी शिवकान्त शर्मा की शिकायत पर पूर्व विधायक एवं उनके अतिरिक्त  4 अन्य लोगों पर भी  धारा 452, 187, 188, 379 आईपीसी के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया है। 

त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन तृतीय चरण में ईसागढ़ में 87 तथा चंदेरी में 84 प्रतिशत मतदान

अशोकनगर:त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन 2014-15 के अन्तर्गत तृतीय चरण मेंजनपद पंचायत क्षेत्र चंदेरी एवं ईसागढ़ में 22 फरवरी 2015 को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण सुव्यवस्थित मतदान सम्पन्न हुआ।इस अंतिम चरण के मतदान में ईसागढ़ जनपद क्षेत्र में लगभग 87.08 प्रतिशत तथा चंदेरी जनपद क्षेत्र में लगभग 84.12 प्रतिशत मतदान होने की जानकारी प्राप्त हुई। तृतीय चरण में जनपद पंचायत चंदेरी के 159 मतदान केन्द्रों तथा ईसागढ़ के 242 मतदान केन्द्रों पर शांतिपूर्ण मतदान सम्पन्न हुआ। कलेक्टर आर.बी.प्रजापति ने ईसागढ़ जनपद पंचायत क्षेत्र के विभिन्न मतदान केन्द्रों ग्राम पंचायत धुर्रा के मतदान केन्द्र क्रमांक 74 एवं 75, ग्राम कुरायला क

बिहार के सीएम जतिन मांझी ने सौंफा राज्यपाल को इस्तीफा

पटना: मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी बिहार विधानसभा में विश्वासमत साबित करने से ठीक पहले ही ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। मांझी ने विधानसभा में विश्वासमत से पूर्व  राज भवन पहुंचकर राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी को अपना इस्तीफा सौंप दिया। सुबह साढ़े 11 बजे इस्तीफे का औपचारिक ऎलान किया जाएगा। मांझी के इस्तीफे से जेडीयू में जश्न -मांझी के इस्तीफा देने के बाद जेडीयू के विधायकों में जश्न का माहौल है। इस घटना के बाद नीतिश कुमार राज्यपाल से मिलने गए। इससे पहले मांझी को जेडीयू ने इस महीने के शुरूआत में पार्टी से निकाल दिया था। इसके बाद भी उन्होंने पद छोड़ने मना कर दिया था और दावा कर र

मप्र बजट सत्र का पहला दिन, लाठी पानी और हंगामे की भेंट चढ़ा !

भोपाल: मप्र विधानसभा का बजट सत्र बुधवार से शुरू होना था लेकिन, सत्र की औपचारिक शुरुआत के साथ ही 10 मिनट बाद सेशन स्थगित कर दिया गया। कांग्रेसी विधायकों के हंगामे के चलते राज्यपाल ने अपनी अभिभाषण की पहली और आखिरी लाइन ही पढ़ी जिसे ही उनका संपूर्ण भाषण मान लिया गया। कांग्रेस ने राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान ही सदन का बहिष्कार कर दिया।राज्यपाल से माँगा इस्तीफा-;बमुश्किल 10 मिनट चले सत्र में कांग्रेसी विधायकों ने जमकर हंगामा किया। विपक्ष में बैठे लोगों ने राज्यपाल पर आरोप लगाए और उनके इस्तीफे की मांग की।राजनैतिक बैठकें होती रहीं-सत्र के स्थगन के बाद आज पूरे दिन राजधानी में राजनैतिक गहमागहमी बनी रही। इस बीच केंन्द्रीय मंत्री उमाभारती भी राज्यपाल से मिलने राजभवन गईं। दूसरी ओर मुख्यमंत्री के आवास पर प्रदेश प्रभारी और सूबे के तमाम मंत्रियों की बैठक हुई जिसमें कई मुद्दों पर चर्चा हुई।कांग्रेसियों पर लाठी -पानी -सरकार

Pages