Ashok nagar

कोरोना का क्योर संभव घबराइये नहीं !

आज हमारे देश ही नहीं बल्कि सारी दुनिया में जिधर भी देखो उधर ही एक ही चर्चा बस वो है कोरोना वायरस की।तो क्यों न समय रहते दोस्तों इस ज्वलंत समस्या पर हम भी बैठकर कुछ सार्थक बातें कर ही लें। हमारे देश में कोरोना वायरस कोई एकाएक अभी नहीं आया है,यह तो कितने ही समय से व्याप्त है।इतना ही नहीं हमारे यहाँ तो एक नहीं कोरोना वायरस भी चार प्रकार के है:-1.229 अल्फ़ा कोरोना वायरस 2. NL 63 अल्फ़ा कोरोना वायरस 3. OC 43 वीटा कोरोना वायरस 4. HKU1 ;वीटा कोरोना वायरस ।यह चारों प्रकार के कोरोना वायरस कितने ही समय से हमारे देश में कितने ही लोगों में शरीर में प्रवेश करके रह रहे हैकिन्तु आज तक यह देखने सुनने में नही आया है कि इन कोरोना वायरसों के कारण किसी भी व्यक्ति की मौत हो गई हो या यूज़ कोई गंभीर रूप से तकलीफ महसूस होती हो ।इतना ही नही जिन लोगों के शरीर में यह उक्त कोरोना वायरस रह रहे हैं उन्हें भी इसका मालूम तक नही है।किन्तु आजकल जिस कोरोना वायरस की बात हो रही है वो एकदम नये किस्म का कोरोना वायरस है जिसका नाम है CO –VID19 या फिर कुछ लोग इसे 2019-n cov के नाम से परिचित हैं।यह कोरोना वायरस एकदम बिल्कुल नये तरीके का अत्यंत सूक्ष्म वायरस है। जो समुद्री जीवों से फैलता हुआ, अब एक जीव से दूसरे जीव में प्रवेश करते हुये दुनिया के तमाम देशों में अपनी दस्तक देने के साथ ही अत्यंत तीव्रता से फैलकर दुनिया भर में अभी तक लगभग एक लाख लोगों को अपने संक्रमण का शिकार बना चूका है । कोरोना वायरस (सीओवी)के कहर से जनधन की सबसे अधिक हानि चीन में देखने में आ रही है ।कोरोना से घबराने की आवश्यकता नही है बस कुछ सावधानियों को अपनाना है।किसी भी व्यक्ति को यदि कोई भी प्रकार का कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ है तो उसको एक सामान्य सा अनियन (onion) जिसका वैज्ञानिक नाम एलियमस्पा(allium cepa)है। यानि की प्याज जो हमारे घरों में तमाम तरह से उपयोग की जाती है।यह जीवाणुरोधी, तनावरोधी व दर्द निवारक,मधुमेह नियंत्रक, प्रदाह निवारककितने ही प्रकार के रोगों को ठीक करने क सामर्थ्य रखती है।

लीप डे की कुछ रोचक बातें !

लीप ईयर अर्थात फरवरी का महीने जो 29 दिनों का होता है, यह 4 वर्षों में एक बार आता है।ऐसाक्यों होता है कि यह लीप ईयर केवल तीन वर्ष बाद ही क्यों आता है तो आपके के लिए यह जानकारी देते हैं कि धरती को सूर्य का एक चक्कर पूरा करने में 365 दिन 5 घंटे, 48 मिनट, 46 सेकेंड लगते हैं। यानी कैलेंडर से करीब 6 घंटे अधिक। इसी कारण से हर 4 वर्ष में कैलेंडर में एक बार फरवरी का महीना 29 दिन का होता है, ताकि अतिरिक्त घंटे एडजस्ट हो जाएं।

विश्वस्त पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष बने खेर !

अशोकनगर: जिला मुख्यालय अशोकनगर पर विश्वस्त पत्रकार संघ(भारत)की जिला इकाई की बैठक खेर कॉम्प्लेक्स पर रविवार 23 फरवरी 2020की संध्या को आयोजित की गई।बैठक में विश्वस्त पत्रकार संघ की रीति-नीति पर गहन विचार मंथन हुआ।इसके पश्चात सर्व सम्मति से प्रदेश एवं संभागीय प्रतिनिधियों का चयन के साथ-साथ जिला इकाई के गठन की भी घोषणा करते हुये सभी पदाधिकारियों तथा कार्यकारिणी और सदस्यों को उनके दायित्वों को समझाया गया।

प्रदेश प्रतिनिधि :-डॉ.डी.एस.संधु, संभागीय प्रतिनिधि :-श्री शिवकांत शर्मा,

विश्वस्त पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष बने अभय खेर

अशोकनगर: जिला मुख्यालय अशोकनगर पर विश्वस्त पत्रकार संघ(भारत)की जिला इकाई की बैठक खेर कॉम्प्लेक्स पर रविवार23फरवरी2020की संध्या को आयोजित की गई।बैठक में विश्वस्त पत्रकार संघ की रीति-नीति पर गहन विचार मंथन हुआ।इसके पश्चात सर्व सम्मति से प्रदेश एवं संभागीय प्रतिनिधियों का चयन के साथ-साथ जिला इकाई के गठन की भी घोषणा करते हुये सभी पदाधिकारियों तथा कार्यकारिणी और सदस्यों को उनके दायित्वों को समझाया गया।
प्रदेश इकाई प्रतिनिधि डॉ.डी.एस.संधु, संभागीय प्रतिनिधि श्री शिवकांत शर्मा, जिला अध्यक्ष श्रीअभय खेर, उपाध्यक्ष श्री संतोष जैन, कोषाध्यक्ष श्री विकास जुनेजा, महासचिव डॉ.डी.एस.संधु, सचिव श्री ऋषि शर्मा, सहायक सचिव एवं उपकोषाध्यक्ष श्रीअजय शर्मा,संगठन सचिव श्री शैलेंद्र शर्मा(मंटू)प्रचार सचिव श्री पंकज अग्रवाल, कार्यकारिणी सदस्य सर्व श्री राजेन्द्र कुमार शर्मा, चन्द्र मोहन सोनी, गजेन्द्र नामदेव को बनाया गया।उपरांत तमाम साथियों-मित्रों ने सभी को हार्दिक बधाइयाँ एवं संगठन की सफलता के लिए शुभकामनाएँ दी।

छात्र-छात्राओं की राशि डलवाने विधायक जजपाल सिंह जज्जी ने सौंपा पत्र !

अशोकनगर: शासकीय नेहरू महाविद्यालय अशोकनगर के अनुसूचित जाति जनजाति के छात्र-छात्राओं को लंबे समय से आवास भत्ता नहीं मिला है, जिसके कारण आर्थिक रूप से कमजोर महाविद्यालयीन विद्यार्थी परेशान हैं। इसी बात का संज्ञान लेते हुए क्षेत्रीय विधायक जजपाल सिंह जज्जी ने गुरुवार को भोपाल में आदिम जाति अनुसूचित जाति कल्याण मंत्री ओमकार सिंह मरकाम से भैंटकर उन्हें स्थिति से अवगत कराया और शीघ्रता से आवास भत्ते की राशि छात्र-छात्राओं के खाते में डलवाने की बात रखी।

Pages