Delhi & NCR

लोग पहले भारतीय के रूप में पहचाने जाएं-सिंधिया

नई दिल्ली: भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती के मौके पर शुक्रवार को कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि किसी भी व्यक्ति की धार्मिक निष्ठा उसका निजी मामला होना चाहिए और उसकी पहचान सबसे पहले एक भारतीय के रूप में होनी चाहिए। सिंधिया ने कहा, मैं हिंदू हूं। मेरी शादी हिंदू लड़की से हुई है, लेकिन मेरा धर्म मेरे लिए व्यक्तिगत है। उन्होंने कहा कि अपनी निष्ठा वह किसी और पर नहीं थोपेंगे।भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती के मौके पर \'संविधान के प्रति प्रतिबद्धता\' पर लोकसभा में चर्चा में हिस्सा लेते हुए उन्होंने कहा, मैं चाहता हूं कि लोग पहले भारतीय के रूप में पहचाने जाएं। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार \'सेकुलरिज्म\' शब्द के प्रति असहजता महसूस करती है और मंत्री बेतुकी टिप्पणियां करने को उत्साहित हो रहे हैं, जिससे देश में विभिन्न समुदायों के बीच शांति भंग हो सकती है। दादरी (उत्तर प्रदेश) में हुई घटना की ओर इशारा करते हुए सिंधिया ने कहा कि इसका फैसला सरकार नहीं करेगी कि लोग क्या खाएं या क्या पहनें। दा

भारत में आईएसआईएस की विचारधारा को फैलाने वाले लोग सक्रिय-अफशां जबीन

नई दिल्ली: भारत में आईएस के नौ ऐसे सक्रिय लोग हैं जो अफशां की मदद करते हैं और आईएसआईएस की विचारधारा को भारत में फैलाने वाले का काम करते हैं। इस्लामिक स्टेट के लिए रिक्रूटमेंट के आरोप में कुछ दिन पहले पकड़ी गईं हैदराबाद की अफशां जबीन ने पूछताछ में यह बताया है। अफशां ने अपने फेसबुक ग्रुप "Islam Vs Christianity, a friendly discussion" के छह एडमिनिस्ट्रेटर और 14 एक्टिव मेंबर्स की जानकारी दी है। ये सभी भारत और विदेश में बैठे लोग हैं।अफशां के पुलिस को दिए गए बयान के मुताबिक ये लोग दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, बेंगलुरु और कश्मीर में हैं। एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक अफशां ने ऐसे भारतीयों के बारे में बताया जिनकी मंशा आईएस जॉइन करने की है, खुफिया ऐजेंसियां अब इन लोगों पर नजर बनाए हुए हैं।अफशां ने बताया है कि ग्रुप के सभी एडमिनिस्ट्रेटर आईएसआईएस के कट्टर समर्थक हैं। उसने बताया कि 2013 में वह फेसबुक के माध्यम से ईसाइयों का इस्लाम में धर्मांतर कराने का काम किया करत

भारतीय वायुसेना में लड़ाकू मोर्चों पर महिला पायलटों की होगी तैनाती -अरूप राहा

भारतीय वायुसेना का� 83वां स्थापना,गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस पर मुख्य समारोह में वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने अपने करतब दिखाए

डॉ. अब्दुल कलाम के नाम से जानी जाएगी औरंगजेब रोड !

नई दिल्ली: औरंगजेब रोड अब पूर्व राष्ट्रपति स्व. डॉ. अब्दुल कलाम के नाम पर जानी जाएगी। इस आशय का प्रस्ताव एनडीएमसी की बैठक में पास हो गया। कलाम के निधन के बाद से ही दिल्ली की एनडीएमसी एरिया के अंतर्गत आने वाली एक प्रमुख सड़क का नाम उनके नाम पर रखने की मांग उठती रही है। वहीं इस फैसले का विरोध होना भी शुरू हो गया है।सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने अरविंद केजरीवाल से ट्वीट करके कहा है कि आप औरंगजेब के बारे में सही तथ्य पढ़ें। वहीं उन्होंने दूसरा ट्वीट कर सवाल उठाया कि बीजेपी नेताओं ने इसका प्रस्ताव किया और दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार ने इसे इंप्लिमेंट किया। ये दोनों का क्या संदेश दे रहे हैं।वहीं शुक्रवार को औरंगजेब रोड का नाम बदल कर डॉ.

एआईपीएमटी की परीक्षा रद्द !

 

नई दिल्ली: एआईपीएमटी(ऑल इंडिया प्री-मेडिकल टेस्ट) में हुई धांधली के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए परीक्षा रद्द कर दी है और साथ ही सीबीएसई को चार सप्ताह में फिर से परीक्षा आयोजित करने के निर्देश दिए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने माना कि 3 मई को एआईपीएमटी का पेपर लीक हुआ था। गौरतलब है कि एआईपीएमटी का परिणाम 5 जून को घोषित किया जाना था, लेकिन परीक्षा में हुई तमाम गड़बडियों के चलते सुप्रीम कोर्ट ने परिणाम पर स्टे लगा दिया था।इसी दिन सीबीएसई ने कोर्ट से गुजारिश की थी कि वह परीक्षा रद्द न करे और सीबीएसई खुद नकल करने वाले अभ्यर्थियों के खिलाफ एक्शन लेगा, लेकिन सुप्रीम कार्ट न सीबीएसई की एक भी दलील नहीं सुनी और आखिरकार सोमवार को एआईपीएमटी की परीक्षा रद्द कर दी।इस मामले में शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सोमवार (15 जून) तक के लिए सुरक्षित रख दिया था।

Pages