Delhi & NCR

सिख विरोधी दंगों के आरोपी जगदीश टाइटलर कहां थे नहीं मालूम -अमिताभ बच्चन

अमिताभ ने सीबीआई से कहा है कि 1 नवंबर 1984 को मैं इंदिरा गांधी के पार्थिव शरीर के पास तीन मूर्ति भवन में मौजूद था। मुझे नहीं पता कि टाइटलर कहां थे। वहीं सिख विरोधी दंगे के एक मामले में दिल्ली की एक अदालत ने कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर को लेकर सीबीआई से जवाब मांगा है।

एंफीटामाइन के साथ तीन गिरफ्तार!

दिल्ली पुलिस ने 30 लाख रूपए मूल्य के 275 ग्राम नशीले पदार्थ एंफीटामाइन के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

मिराज विमान ने की यमुना एक्सप्रेस वे पर लैंडिंग !

नई दिल्ली:गुरूवार कोवायु सेना के लड़ाकू विमान मिराज-2000 ने हैरंतअंगेज हवाई करतब दिखाते हुए यमुना एक्सप्रेस वे पर सफलतापूर्वक उतरने के पश्चात् दोबारा उड़ान भरी। वायु सेना के अनुसार मिराज-2000 विमान ने एक अभ्यास में भाग लेते हुए सुबह छह बजकर 40 मिनट पर यमुना एक्सप्रेस वे को रनवे की तरह इस्तेमाल करते हुए उसे छुआ और फिर दोबारा उड़ान भरी।वायु सेना के अनुसार, इस विमान ने मध्य भारत में उसके किसी एयर बेस से उड़ान भरी थी और आगरा एयर बेस ने उसे सभी तरह की लाजिस्टिक मदद पहुंचाई थी।भारतीय सैन्य इतिहास में यह पहला मौका है जब वायुसेना के विमान ने हाई वे को रनवे बनाते हुए उस पर उतरने में सफलता हासिल की।

गुलाम नबी आजाद ने कहा दाऊद इब्राहिम कहां है,सरकार बताए !

नई दिल्ली:बुधवार को राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह बताएं कि अंडरवल्र्ड का वांछित डॉन दाऊद इब्राहिम कहां छिपा है। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हीराभाई पार्थीभाई चौधरी ने लोकसभा में मंगलवार को एक लिखित जवाब में कहा था, दाऊद के ठिकाने का अब तक पता नहीं चल पाया है। एकबार उसके ठिकाने का पता चल जाए तो प्रत्यर्पण की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।इसके बाद गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने संसद के बाहर स्पष्टीकरण दिया कि अंडरवल्र्ड डॉन पाकिस्तान में है और केंद्र सरकार इस मुद्दे को अत्यंत गंभीरता से लेगी। आजाद ने मामले को ऊपरी सदन में उठाते हुए कहा कि देश की सरकारें लगातार कहती रही हैं कि दाऊद पाकिस्तान में है और चौधरी के बयान से भारत की छवि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खराब हुई है।आजाद ने कहा, भारत सरकार का यह रूख रहा है कि दाऊद पाकिस्तान में है और वहीं से अपने काम करता है। चुनाव के दौरान यह आरोप लगाया गया था कि हम दाऊद को वापस लाने में ना

ड्रोन के जरिए हमले की फिराक में आतंकी: इंटेलिजेंस

नई दिल्ली:देश की राजधानी दिल्ली में ड्रोन के जरिए जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठन हमला कर सकते हैं। इंटेलिजेंस ने इसको लेकर दिल्ली पुलिस को अलर्ट जारी किया है। इंटेलिजेंस ने यह अलर्ट जापान के प्रधानमंत्री के घर के ऊपर ड्रोन उतारे जाने की घटना के पश्चात जारी किया है और पुलिस को इस तरह के खतरे से निपटने के लिए तुंरत कदम उठाने को कहा गया है।इंटेलिजेंस रिपोर्ट के अनुसार लश्कर और जैश इस तरह के हमले करने की योजना बना रहे हैं। इस पर कदम उठाते हुए दिल्ली पुलिस ने सभी डीसीपी को पत्र लिखकर ड्रोन किराए पर देने वाले लोगों की पहचान करने को कहा है। साथ ही रिपोर्ट भी मांगी गई है। दिल्ली पुलिस ने बिना अनुमति के ड्रोन उड़ाने पर पाबंदी लगाने को कहा है। निजी कंपनियों और फिल्म निर्माताओं को भी पूरी जांच पड़ताल के बाद ही ड्रोन उपयोग की अनुमति दी जाएगी। गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस पर अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा के दौरान भी इस तरह के हमले की चेतावनी दी गई थी। इसके बा

Pages