फ्रांस ने जीता दूसरी बार फीफा विश्व कप ।

रूस ःफ्रांस ने फीफा वर्ल्ड कप के रोमांचक फाइनल में दमदार क्रोएशिया को 4-2 से हराकर दूसरी बार वर्ल्ड चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया। फ्रांस 20 साल बाद विश्व फुटबॉल का सरताज बनने में सफल रहा है।इससे पहले उसने अपने घर में 1998 में दिदिएर डेसचेम्प्स की कप्तानी में पहली बार वर्ल्ड कप जीता था।फ्रांस दूसरी बार 2006 में वर्ल्ड कप का फाइनल खेली थी जहां इटली ने उसे खिताब से महरूम रख दिया था, लेकिन तीसरी बार फ्रांस खिताब जीतने में सफल रही। इससे पहले उसने 1998 में अपने घर में पहला वर्ल्ड कप जीता था।
सबसे अधिक बार जर्मनी जीता ः- 1930 से फीफा वर्ल्ड कप की शुरुआत हुई थी और हर 4 साल पर होने वाले इस फुटबॉल टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 5 बार चैंपियन का ताज ब्राजील के सिर सजा है, जबकि मौजूदा चैंपियन जर्मनी ने 4 बार इस खिताब को अपने नाम किया है. इसके अलावा इटली भी 4 बार खिताब जीतने में सफल रहा है.
उरुग्वे की मेजबानी में खेले गए साल 1930 के पहले फीफा वर्ल्डकप में मेजबान देश ने अर्जेंटीना को 4-2 से मात देकर फीफा वर्ल्ड कप का खिताब जीता था. 2018 में रूस में खेले गए फीफा वर्ल्ड कप में फ्रांस क्रोएशिया को 4-2 से हराकर चैंपियन बनीं.
1930 से फीफा वर्ल्ड कप चैंपियन का इतिहास ः-
ब्राजील - 5 (1958, 1962, 1970, 1994, 2002)
जर्मनी - 4 (1954, 1974*, 1990, 2014)

आधुनिक कृषि को बढ़ाने डॉ. मंजू शर्मा कलेक्टर का भ्रमण !

जिले में आधुनिक रूप से कृषि उत्पादन बढ़ाने के उद्देश्य से एवं प्रगतिशील कृषकों से मुलाकात करते हुए कलेक्टर डॉ. मंजू शर्मा ने जिले की नई सराय तहसील के ग्राम सीहोर का भ्रमण किया। यहां पर आपने प्रगतिशील किसान हरिराम कुशवाह के द्वारा आधुनिक तकनीक से कृषि करने के विभिन्न तरिकों से उत्पादित फलों की विभिन्न किस्मों का अवलोकन किया।

सीपीएम मनाएगी 'रामायण महीना' !

सीपीएम(मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ) केरल राज्‍य समिति ने 'रामायण महीना' मनाने का निर्णय लिया है। अब मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी भगवान राम की शरण में जाती नजर आ रही है। पार्टी 25 जुलाई को रामायण पर एक सम्मेलन आयोजित कर रही है। रामायण महीने को बूथ स्‍तर तक मनाने के लिए पूरे राज्‍य में रामायण पर कक्षाएं आयोजित करने का फैसला लिया गया है। पार्टी के छात्र विंग एसएफआई(स्‍टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया) के पूर्व अध्‍यक्ष और अब पार्टी की राज्य समिति के सदस्य शिवदासन को इस आश्चर्यजनक मिशन का प्रभार दिया गया है।

गुफा में इतने दिन जिंदा रहना बड़ा चमत्कार, पूरा हुआ थाईलैंड रेस्क्यू ऑपरेशन !

उत्तरी थाइलैंड की गुफा में लगभग दो सप्ताह के लंबे रेस्क्यू ऑपरेशन के पश्चात् इस गुफा में फंसे कोच सहित सभी बच्चे सुरक्षित बाहर निकाल लिए गए हैं। 18 दिन बहुत लंबा समय होता है, विशेष रूप से जब मुसीबत में फंसे हों किन्तु बच्चों ने ये कर दिखाया। जो बिना हौसला खोए जिंदा भी रहे और सुरक्षित बाहर भी निकल आए। हालांकि, इस ऑपरेशन में एक गोताखोर प्राण वायु अर्थात ऑक्सीजन के समाप्त होने पर अवश्य शहीद हो गया।

Pages