लाला लाजपत की मूर्ति को भाजपाई "दुपट्टा",पहनाने की विपक्षियों ने की निंदा!

नई दिल्ली:बुधवार को नामांकन भरने से पूर्व भारतीय जनता पार्टी की सीएम पद की उम्मीदवार किरण बेदी ने अपने रोड शो के दौरान स्वतंत्रता सेनानी लाला लाजपत राय की मूर्ती को भाजपा का दुपट्टा पहना दिया। पार्टी के चुनाव चिन्ह कमल के निशान वाले इस दुपट्टे के बेदी द्वारा पहनाए जाने के बाद विवाद पैदा हो गया है।बेदी रोड़ शो में अपने प्रशंसकों के साथ रोड शो में नामांकन भरने जा रही थी। तभी लाला लाजपत की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचीं। बेदी ने पहले अपने गले में पड़े पार्टी के निशान वाले दुपट्टे से मफलर से प्रतिमा का चेहरा पोंछा और फिर मूर्ती के गले में डाल दिया। जिसके बाद विवाद खड़ा हो गया। केजरीवाल सहित कई पार्टियों ने बेद की इस हरकत की निंदा की है।वहीं आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने न कहा कि भाजपा कम से कम स्वतंत्रता सेनानियों को तो बख्श दे। स्वतंत्रता सेनानी सभी पार्टियों के हैं।केजरीवाल के साथ ही आप नेता आशुतोष ने कहा कि आजादी की लड़ाई के वक्त आरएसएस नेता घरों में छिपे थे और

बेदी के भाजपा में शामिल होने से अन्ना हुए नाराज !

पुणे:भारत की प्रथम ;महिला आईपीएस अधिकारी किरण बेदी के भाजपा(भारतीय जनता पार्टी ) में शामिल होने से गांधीवादी अन्ना हजारे खुश नहीं हैं। वह इतने नाराज हैं कि बेदी का फोन तक नहीं उठा रहे हैं।सूत्रों के अनुसार, अन्ना इस बात से नाराज हैं कि बिना उनसे विचार विमर्श कर किरण बेदी राजनीति के अखाड़े मे कूद पड़ीं। गुरूवार को भाजपा मे शामिल होने के बाद से ही बेदी हजारे को फोन कर रही हैं, लेकिन वह उनका फोन नहीं उठा रहे हैं।सूत्रो ने बताया कि बेदी ने शनिवार रात और रविवार सुबह भी अन्ना को फोन किया, परन्तुउन्होने कोई जवाब नहीं दिया। शुक्रवार को अन्ना ने संवाददाताओं से कहा कि भाजपा में शामिल होने से पहले किरण बेदी ने उनसे कोई चर्चा नहीं की थी। साथ ही उन्होंने बताया कि पिछले एक साल से वह (बेदी) उनके गाव रालेगांव सिद्धी नहीं आई और न ही इस दौरान कोई बात की।उल्लेखनीय है कि उन्होंने आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल के खिलाफ नई दिल्ली विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने की इच्छा जताई

ओबामा के भारत दौरे के दौरान पाक को चेतावनी न हो कोई आतंकी घटना

वाशिंगटन:पाकिस्तान को अमरीका ने चेताया है कि राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा के लिए दौरान किसी भी तरह की आतंकी घटना नहीं होनी चाहिए। ओबामा दौरा से पहले अमरीका ने पाकिस्तान को सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि इस दौरान दौरान सीमा पर आतंकी हमले की कोई घटना नहीं होनी चाहिए। साथ ही चेताया है कि अगर कोई ऎसी घटना होती है तो उसके "नतीजे" गंभीर होंगे।अमरीकी राष्ट्रपति गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के तौर पर आ रहे हैं।भारतीय और अमरीकी सुरक्षा एजेंसियां ओबामा की सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए मुस्तैद हैं। गणतंत्र दिवस पर परेड़ के दौरान ओबामा राजपथ पर दो घंटे के लिए बाहर होंगे। ऎसा माना जा रहा है कि अमरीका ने पाकिस्तान से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि ओबामा की भारत यात्रा के दौरान सीमा पार आतंक की कोई घटना नहीं हो या फिर इसका कोई प्रयास भी नहीं हो। साथ ही सूत्रों का कहना है कि इस दौरान कोई आतंकी हमला होने पर पाकिस्तान से "नतीजे" भुगतने के लिए तैयार रहने को कहा ह

अभिव्यक्ति की आजादी का मतलब दूसरों का अपमान नहीं - पोप फ्रांसिस

फिलिपींस:;पोप फ्रांसिस ने कहा कि अभिव्यक्ति की सीमा की एक सीमा होती है, खासकर जब वह किसी और के धर्म का मजाक या अपमान करे। पोप ने यह बात गुरूवार को अपने विशेष विमान से फिलिपींस जाते हुए पत्रकारों से पेरिस में हुए आतंकी हमले के संबंध में कही।हालांकि, पोप ने कहा अभिव्यक्ति की स्वतंत्रा न सिर्फ एक मौलिक अधिकार है, अपितु अपनी बात रखने की जिम्मेदारी भी होती है। लेकिन, इसकी भी एक सीमा होती है। आप किसी और के धर्म का अपमान नहीं कर सकते, न ही आप किसी को उकसा सकते हो।पेरिस पर हुए आतंकी हमले की निंदा करने वाले पोस से पत्रकारों ने धर्म मानने की आजादी और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के बीच रिश्तों को लेकर सवाल पूछा था। इसपर पोर ने कहा कि मेरा मानना है कि यह दोनों बाते मौलिक अधिकार हैं।श्रीलंका से फिलिपींस जाते हुए पोप ने कहा कि हर व्यक्ति को अपना धर्म मानने का अधिकार है, ठीक उसी तरह अभिव्यक्ति की आजादी भी एक मौलिक अधिकार है, लेकिन इसका यह मतलब नहीं की आप दूसरे धर्म का अपमान या मजाक उड़ाएं।

पृथ्वी के आकार का हीरा !

वाशिंगटन: हीरा एक से एक बड़े से बड़े आकार का आपने देखा होगा, परन्तु इतने बड़े आकार का नहीं, क्योंकि यह कोई एक-दो किलो का नहीं बल्कि पूरी पृथ्वी के जितना बड़ा है।दरअसल खगोलविदों की एक टीम ने एक छोटे तारे की खोज की है जो अब तक खोजे गए सभी तारों से अधिक ठंडा तथा चमकीला है। यह अतिप्राचीन तारा इतना ठंडा है कि इस पर उपस्थित कार्बन क्रिस्टल बनकर अपनी चमक से अंतरिक्ष में धरती के आकार का हीरा होने जैसा दिख रहा है।वैज्ञानिकों का कहना है कि इस तारे की उम्र हमारी आकाशगंगा जितनी ही हो सकती है। आकाशगंगा की उम्र लगभग 11 अरब वर्ष है। इस बारे में यूनिवर्सिटी ऑफ विस्कॉन्सिन मिलवॉकी के प्रोफेसर डेविड कैपलन का कहना है कि यह एक उल्लेखनीय उपलब्धि है। हीरे के जैसे इस तारे को कैपलन और उनके साथियों ने नेशनल रेडियो एस्ट्रोनॉमी ऑब्जर्वेटरी ग्रीन बैंक टेलीस्कोप तथा बहुत बड़े आकार वाले बेसलाइन एरे एवं अन्य प्रक्रियाओं के जरिए खोजा है।वैज्ञानिकों ने अपनी गणना में पाया कि इस छोटे से ठंडे तारे का त

Pages